अन्यकल्चरल & इवेंटगोरखपुरडेवलपमेंट

किसानों के साथ हो रहा खेल, नहीं सुधरे तो जाओगे जेल !

hjkk

जिले के किसान भाइयों को सूचित किया है कि कृषि यंत्रीकरण के विभिन्न योजनाओं में कृषि यंत्रों/उपकरणों के वितरण, कस्टम हायरिंग सेन्टर में टोकन जनरेट करते समय कतिपय डीलर्स या अन्य व्यक्तियों द्वारा विभागीय पोर्टल पर किसानों के नाम पर मोबाइल नंबर डालकर टोकन जनरेट किया जा रहा है। जो आपत्ति जनक और अमान्य है। कृषि यंत्रों/उपकरणों के वितरण, कस्टम हायरिंग सेन्टर की स्थापना का टोकन जनरेट करने के लिए ओटीपी प्राप्त करने हेतु दिया गया मोबाइल नंबर कृषक का स्वयं अथवा उसके परिवार के खून के रिश्ते के सदस्य होना चाहिए। भिन्न व्यक्ति का मोबाइल नंबर होने की दशा में चयन निरस्त किया जायेगा एवं अनुदान देय नहीं होगा। यदि यह पाया जाता है कि किसी डीलर ने अपना मोबाइल नंबर डालकर ओटीपी प्राप्त कर टोकन जनरेट किया है तो ऐसे डीलर को ब्लैक लिस्ट किया जायेगा तथा उनके विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जायेगी। भविष्य में उस डीलर से कोई कृषि यंत्र क्रय नही किये जायेंगे। उक्त जानकारी उप कृषि निदेशक ने दी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
English English Hindi Hindi
Close