उत्तर प्रदेशगोरखपुरगोरखपुर मंडलजायकाराज्यस्वास्थ्यहेल्थ

अब रेस्टोरेंट व होटल में बैठकर कर सकेंगे ब्रेकफास्ट, लंच एंड डिनर

hjkk

कोरोना महामारी(कोविड-19) को फैलने से रोकने हेतु शासन के द्वारा समय-समय पर जारी दिशानिर्देशों के दृष्टिगत लोगों में मास्क, सेनेटाइजर, ग्लब्स तथा फिजिकल डिस्टेंसिंग(शारीरिक दूरी) व सोशल डिस्टेंसिंग(सामाजिक दूरी) का अनुपालन कराने हेतु प्रशासन पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। यह जानकारी देते हुये अपर जिलाधिकारी नगर राकेश कुमार श्रीवास्तव ने बताया है कि अतः निम्न प्रतिबन्धों के साथ होटल/रेस्टोरेन्ट में बैठाकर खाना खिलाने की अनुमति दी जाती है- उन्होने बताया कि रेस्टोरेन्ट/होटल के प्रवेश द्वार पर आगंतुक पंजिका, थर्मल स्कैनर,पल्स आक्सीमीटर एवं कुछ मात्रा में मास्क के साथ हेल्पडेस्क अनिवार्य रूप से स्थापित होगी। सम्बन्धित रेस्टोरेन्ट/होटल के हेल्प डेस्क पर रेस्टोरेन्ट में आने वाले समस्त व्यक्तियों का थर्मल स्कैनर से जाॅच, पल्स आक्सीमीटर की जांच तथा सेनेटाइजर से हाथ सेनेटाइज करने एवं आगंतुक पंजिका में पंजीकरण के बाद ही होटल/रेस्टोरेन्ट में प्रवेश की अनुमति दिया जाये बिना मास्क प्रवेश पूर्णतः प्रतिबन्धित रहेगा। जिन व्यक्तियों के पास मास्क नही होगा उन्हें रेस्टोरेन्ट/होटल के हेल्पडेस्क पर मास्क उपलब्ध कराना होगा।

उन्होने बताया है कि होटल/रेस्टोरेन्ट में खाने की टेबल पर फिजिकल डिस्टेंसिंग(शारीरिक दूरी) व सोशल डिस्टेंसिंग(सामाजिक दूरी) का अनुपालन न करने एवं बिना मास्क के किसी व्यक्ति के पकड़े जाने पर उक्त व्यक्ति के साथ-साथ सम्बन्धित होटल/रेस्टोरेन्ट पर विधि संगत कार्यवाही की जाएगी। कामन डाइनिंग हाल में सेन्ट्रलाइज्ड ए0सी0 का प्रयोग वर्जित होगा, डाइनिंग हाल में खिड़कियां एवं दरवाजे खुले रखे जाएगें तथा एक्जास्ट फैन लगाकर दूषित हवा को बाहर किया जाएगा। भोजन परोसने वाले वेटर अनिवार्य रूप से मास्क, ग्लब्ज, हैंड सेनेटाईजर, बाल ढकने वाली टोपी का प्रयोग करेंगे। होटल में प्रयुक्त एवं अप्रयुक्त समस्त बर्तनों का पूर्णतः सेनेटाईज किया जाएगा, प्रयुक्त बर्तन धोने वाला पी0पी0 किट का प्रयोग करेगा। प्रयुक्त डिस्पोजेबल प्लेट/गिलास/कटोरी को प्रयोग के बाद पूर्णतः नष्ट कराने की जिम्मेदारी होटल मालिक/मैनेजर की होगी। टाईलेट एवं वाशरूम में लिक्विड सोप एवं पानी की व्यवस्था अनिवार्य है।शासन द्वारा प्राप्त सभी दिशा निर्देशों का कड़ाई से अनुपालन कराया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
English English Hindi Hindi
Close